You Searched For "जहाँ यज़ीद का लश्कर दिखाई देता है । वहां पे हमको बहत्तर दिखाई देता है हमारी लाश किसी को नज़र नही आती हमारे हाथ का पत्थर दिखाई देता है"